गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव : मुरझाया कमल, चल गई 'बुआ-बबुआ' की साइकल

Updated On: Mar 14, 2018 - 3 महीने पहले
Report By: Goodsamachar.com

गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव : मुरझाया कमल, चल गई 'बुआ-बबुआ' की साइकल

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों के साथ बिहार की एक लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर आए उपचुनाव के नतीजों ने भाजपा की चिंता बढ़ा दी है। यूपी और बिहार की तीनों लोकसभा सीटों पर पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ा।

यूपी की दो सबसे चर्चित लोकसभा सीटों (गोरखपुर और फूलपुर) पर अजेय भाजपा को तगड़ा झटका लगा है। यहां कमल पर साइकल भारी पड़ गई। इन दोनों ही सीटों पर सपा ने जीत दर्ज कर सारे समीरकरण बदल दिए हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ के क्षेत्र गोरखपुर से जहां सपा प्रत्याशी प्रवीन निषाद ने भाजपा के उपेन्द्र शुक्ल को 21 हजार 881 वोटों से हरा दिया। वहीं फूलपुर में समाजवादी पार्टी प्रत्याशी नागेंद्र पटेल ने भाजपा के कौशलेंद्र पटेल को 59 हजार से भी ज्यादा वोटों से मात दी।

बिहार में भी मिली हार 

बिहार की अररिया लोकसभा सीट पर भी आरजेडी ने भाजपा को हरा दिया है। आरजेडी कैंडिडेट सरफराज आलम ने भाजपा कैंडिडेट प्रदीप सिंह को 61788 वोटों से हराया। वहीं, जहानाबाद विधानसभा सीट में आरजेडी के कृष्ण मोहन ने जद (यू) के अभिराम शर्मा के खिलाफ 35036 वोटों से बड़ी जीत हासिल की है। हालांकि, भभुआ विधानसभा सीट पर भाजपा की रिंकी रानी पांडे जीतीं। यहां दूसरे नंबर पर कांग्रेस के शंभू सिंह पटेल रहे। रिंकी रानी ने शंभू सिंह को 15,490 वोटों से हराया।

सीएम योगी के इस्तीफे के बाद खाली हुई थी सीट

गोरखपुर और फूलपुर दोनों ही सीटों पर बीजेपी की साख दांव पर थी क्योंकि सीएम योगी के इस्तीफे के बाद खाली हुई गोरखपुर सीट और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की फूलपुर सीट पर शुरुआत में तो टक्कर दिखी लेकिन बाद में सपा ने बाजी मार ली।

शानदार जीत पर अखिलेश ने कसा तंज

इस शानदार जीत पर अखिलेश ने मायावती को भी धन्यवाद दिया। अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, सीएम और डिप्ट सीएम की सीटों पर भी जनता में नाराजगी है। कर्जमाफी की बात हुई थी लेकिन कुछ नहीं हुआ। बेरोजगारी बढ़ गई। जीएसटी और नोटबंदी ने रोजगार छीने तो कानून और संविधान की धज्जियां उड़ाईं गईं, इसी का जनता ने जवाब दे दिया।

योगी बोले-अतिआत्मविश्वास ले डूबा

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, हम जनता के फैसले का सम्मान करते हैं। यह परिणाम उम्मीद से परे है। हम जल्द ही इसकी समीक्षा करेंगे। मैं जीते हुए उम्मीदवारों को बधाई देता हूं। उन्होंने कहा-हमारे अतिआत्मविश्वास की वजह से भी हमारा नुकसान हुआ।

2014 में हुआ था उलटफेर

सीएम योगी आदित्यनाथ के गृहक्षेत्र गोरखपुर में 47.45 फीसदी वोटिंग हुई, वहीं फूलपुर में 37.39 फीसदी मतदान हुआ है। 2014 में इन दोनों सीटों पर बीजेपी ने बड़े अंतर से जीत हासिल की थी। यहां तक कि सपा, बसपा और कांग्रेस को मिले सम्मिलित वोट भी भाजपा के विजयी उम्मीदवार से कम थे।



loading...

जरूर पढ़ें